श्री गणेश आरती, Shri Ganesh Aarti in Hindi

श्री गणेश जी की आरती: संसार में कोई भी शुभ कार्य करें से पहले किसी देवता की पूजा की जाती है तो वो है श्री गणेश जी, श्री गणेश (Ganesh) जी की पूजा आरती करने से हमारे घर में हमेशा के लिए शांति बनी रहती है। कोई भी शुभ काम करने से पहले श्री गणेश जी की पूजा की जाती है। वो शादी हो या कोई दुकान या फिर कोई बड़ा बिज़नेस ही क्यों न हो सब से पहले गणेश जी की पूजा की जाती है। ऐसा करने से गणेश जी हमेशा के लिए हमारा कारोबार धंधा अच्छा चलता है।

श्री गणेश जी की आरती पूजा करने से हमारे घर में या धंधे में जो भी बाधाएं और अड़चने है वो सब दूर हो जाती है। और जहा पर श्री गणेश जी का वास होता है। वहा पर रिद्धि सिद्धि और लाभ शुभ का भी वास होता है। इशलिये श्री गणेश जी की आरती पूजा करने से हमेशा भक्तो का मंगल ही होता है।

Shri Ganesh Aarti

Lord Ganesha, Shri Ganesh Aarti

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

एक दंत दयावंत,
चार भुजा धारी ।
माथे सिंदूर सोहे,
मूसे की सवारी ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

पान चढ़े फल चढ़े,
और चढ़े मेवा ।
लड्डुअन का भोग लगे,
संत करें सेवा ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

अंधन को आंख देत,
कोढ़िन को काया ।
बांझन को पुत्र देत,
निर्धन को माया ॥

जय गणेश जय गणेश,
जय गणेश देवा ।
माता जाकी पार्वती,
पिता महादेवा ॥

Leave a Comment

"
"